Shayari

Best All [ 150 ] Altaf Raja shayari

आज का हमरा पोस्ट shayari जिसमे altaf raja shayari  Jo की उनके सभी shayari का collection बनाया है । अल्ताफ राजा जाने माने व्यक्ति है ।

Altaf Raja ki shayari जो की उस टाइम की सबसे ज्यादा पसन्द की जाने वाली shayari थी। इसीलिए उनके पूरे हिन्दी शायरी collection को एक साथ लेके आए है ।

आपको इस पोस्ट में altaf raja sad Shayari से लेके अभी urdu shayari का भी collection मिलेगा। जिसे आप अपने किसी भी जगह स्टेट्स के रूप उपयोग कर सकते है । तो चलिए altaf ki shayari को पढ़ते है ।

Altaf Raja Shayari

 

तुम तो ठहरे परदेशी, साथ क्या निभाओगे,
सुबह पहली गाड़ी से घर को लौट जाओगे

Altaf Raja shayari

Tum to thahare Pardeshi, sath kya nibhaoge

Subah pahli gaadi se ghar ko laut jaoge ..!!

 

दिल की तबाहियों का अफसाना कह रही है,
मेरी नजर मुझे को दीवाना कह रही है

Altaf Raja shayari

Dil ki tabahiyon ka afasana kah rahi hai ,

Meri nazar mujhe ko deewana kah rahi hai ..!!

 

हमारे इश्क़ का इजहार यूं किया,
फूलो से तेरा नाम पत्थरो पे लिख दिया !!

Altaf Raja shayari

Hamare ishq ka ijhar yoon kiya

phoolon se tera naam patthro se likh diya ..!!

Altaf raja wiki

इनके चेहरे पे लगे रहते है 100 नकाब,,
हम भी समझ पाए नही कटे है या गुलाब !!

Altaf Raja shayari

Inke chehre pe lage rahte hai 100 nakab,

Hum bhi samjh pae nahi kate hai ya gulab ..!!

 

सो गयी हर गली सो गया ये शहर,
अपने हालात से हर कोई बेखर

Altaf Raja shayari

So gayi har gali so gaya ye Shahar ,

Apne halat se har koi bekhabar hai

 Read More  

Altaf Raja ki shayari

 

मुझकों कत्ल कर डालो शौक से अगर सोचो,
मेरे बाद तुम किस पर ये बिजलिया गिराओगे !!

Altaf Raja shayari

Mujhko katl kar dalon shauk se mgar socho,

mere tum kis par ye bijliyan giraoge..!!

 

खिंचे खिंचे हुए रहते हो , ध्यान किसका है,
ज़रा बताओ तो ये इम्तेहान किसका है,
हमे भूलदो मगर ये तो याद होगा,
नई सड़क पे ये पुराना मकान किसका है !!

 

Khiche khiche huye rahte ho , dhyan kiska hai

jara batao to ye imtehan kiska hai ,

hume bhula do magar ye to yaad hoga ,

nayi sadak pe ye purana makan kiska hai ..!!

 

two line altaf raja shayari

 

मुसीबत की गाडी में कौन किसका साथ देता है,
अंधेरे में तो साया भी जुदा इंसान से रहता है !!

Altaf Raja shayari

Musibat ki gadi me kaun kiska sath deta hai ,

Andhere me to saya bhi juda insan se rahta hai.!!

 

यार बिना सब सुना सुना प्यार बिना सब खाली ,
तुम आ जाते हो तो झूम उठती डाली डाली !!

 

Yar bina sab suna suna pyar bina sab khali

Tum aa jate ho to jhoom uthti dali dali ..!!

 

भरी महफ़िल में दिल हँसता है , तन्हाइयो में रोता है,
किसी को याद करना भी बड़ा दुश्वार होता है !!

 

Bhari mahfil me dil hasta hai , tanhaiyon me rota hai ,

kisi ko yad karna bhi bada dushwar hota hai ..!!

 

altaf Raja ghazal in hindi

 

तुझको देखेगे सितारे तो जिया मांगेंगे,
माँ और प्यासे तेरी ज़ुल्फ़ों से घटा मांगेगे,
अपने कंधे से दुपता न सरकने देना,
वार्ना बूढे भी जवानी की दुआ मांगेंगे !!

 

tujhko dekhenge sitare to jiya mangege

aur pyase teri zulfon se ghata mangenge

apne kandhe se dupta na sarkane dena

warna bunde bhi jawani ki dua mangege ..!!

 

आशिकी का दिया जब से रोशन किया,
दर्द सारे ज़माने का दिल में लिया !!

Altaf Raja shayari

Aashiki ka diya jab se roshan kiya

dard sare jamane ka dil  me liya ..!!

 

तुमको पाया बड़ी मुश्किल से न खोने दूंगा,
में किसी और का तुमको नही होने दूंगा !!

 

tumko paya badi muskil se na khone dunga

me kisi aur ka tumko nahi hone dunga..!!

 

घटा पे झूमता बदल नही तोह कुछ भी नही,
तुम्हारी आंख में काजल नही तोह कुछ भी नही !!

 

Ghata pe jhumta badal nahi toh kuch bhi nahi

tumhari aankh me kajal nahi toh kuch bhi nhi ..!!

 

पिछले बरस यह डर था कही तू जुदा न हो,
इस बरस डर है तेरा सामना न हो !!

Altaf Raja shayari

Pichlte baras yah dar tha kahi tu juda na ho

is baras dar hai tera samana na ho ..!!

 

altaf raja song shayari

 

छुप छुप के आत्मा में सफर का पता चला,,
वो मर गया तो उसके हुनर का पता चला और,
जब एक एक फूल उड़ा ले गयी हवा,
उस दिन बाहर का मेरे घर का पता चला !!

 

Chup Chup ke aatma me safar ka pata chala ,

wo mar gaya to uske hunar ka pata chala aur

jab ek ek phool uda le gayi hawa,

us din bahar ko mere ghar apata chala..!!

 

कितना दर्द है दिल में दिखाया नही जाता ,,
गंभीर है किस्सा सुनाया नही जाता,
एक बार जी भर के देख लो इस चेहरे को,
क्योंकि बार बार कफन उठाया नही जाता !!

 

Kitna dard hai dil me dikhaya nahi jata,

gambhir hai kissa sunaya nahi jata

ek bar jee bhar ke dekh lo is chehre ko

kyuki bar bar kafal uthaya nhi jata ..!!

 

Altaf Raja Sad Shayari

 

कोई दिल से बुरा नही होता ,वक़्त जो बेवफा नही होता,  उसके हालात बुरे होते है,
आदमी खुद बुरा नही होता !!

 

Koi dil se bura nahi hota ,

waqt jo bewafa nahi hota

uske halat bure hote hai

aadmi khud bura nahi hota..!!

 

कोई आस नही एहसास नही,
दरिया भी मिला बुझी प्यास नही !!

Altaf Raja shayari

Koi aas nahi ehasas nahi ,

Dariya bhi mila bujhi pyas nahi ..!!

 

क्या बताऊ , अब हाल दूसरा है,
अरे ये साल दूसरा था ये साल दूसरा है !!

 

Kya batau , ab hal dusra hai ,

Are ye saal dusra tha ye sal dusra hai ..!!

 

मैं वो फूल हु की जिसको गया हर कोई मसल कर,
मेरा दिल यह कह रहा है मेरे आसुओ में डाल के !!

 

Me wo phool hoon ki jisko gaya har koi masal kar,

mera dil yah kah raha hai mere aasuo me dal ke..!!

 

Altaf Raja shayari

 

किसी के इश्क़ में जब तक कोई रुसवा नही होता,
मोहबत का फसाना तब तलक सच्चा नही होता !!

 

Kisi ke ishq me jab tak koi rusava nahi hota,

mohbat ka fasana tab talak sachha nahi hota..!!

 

तुम किसी अपने को ऐसे बेवफा न समझोमाँ,
आशिक़ी में बेबसी को तुम दगा न समझो

 

Tum kisi apne ko aise bewafa na samjho ,

Ashiki me bebasi ko tum daga na samjho ..!!

 

हमने अपनी हर सास पर नाम तेरा लिख दिया,
एक तुझे पाने की खातिर खुदको पागल कर दिया

 

hamne apni har sas par nam tera likh diya ,

ek tujhe pane ki khatir khudko pagal kar diya..!!

 

इश्क़ जब हद से पर हो जाएगा,
ज़िन्दगी बेकार हो जाएगी, किसी के साथ न कभी ऐसा हो ये रब,
अब किसी के प्यार को किसी से प्यार हो जाएगा !!

 

Ishq jab had se par ho jayega

zindgi bekar ho jayegi

kisi ke sath na kabhi aisa ho ye rab

Jab kisi ke pyar ko kisi se pyar ho jayega

 

बहकी हुई बहारों ने पीना सीखा दिया,
पिता हूँ इस गरज से के जीना है चार दिन,
मरने के इंतज़ार ने पीना सीखा दिया !!

 

Bahaki hui baharon ne pina sikha diya

peeta hoon is garaj se ke jeena hai char din

marne ke intzar ne pina sikha diya ..!!

 

चंद लम्हों ओ की मुलाकात ,
मुलाकात है क्या, तुझे मालूम नही तारों भारी रात है क्या,
इतनी जल्दी तू मोहबत सब भूल गया,
ऐसी वैसी नही कुछ बात तो फिर बात है क्या !!

 

chand lamhon ki mulakat , mulakat hai kya

tujhe maloom nahi taron bhari raat hai kya

Itni jaldi tu mohbat sab bhul gaya

aise vese nhi kuch baat to phir bat hai kya ..!!

 

Altaf Raja shayari

 

इस शहर में नामुराद की इज्जत करेगा कौंन,
अरे हम चले भी गए तो मोहबत करेगा कौंन,
इस घर की देख भाल को बिरानीय तो हो,
जाले हटा दिए तो हिफाजत करेगा कौंन

 

Is shahar me namurad ki ijjat karega kaun

are hum chale bhi gaye to mohbat karega kaun

is ghar ki dekh bhal ko biraniya to ho

jale hata diye to hifajat karega kaun…!!

 

न होसले न इरादे ,  बदल रहे है लोग,
थके थके है मगर चल रहे है लोग,
वफ़ा न प्यार न किरदार न वसूल कोई,,
न जाने कौन से सच में ढल रहे है लोग !!

 

Na hausle  Na irade, badal rhe hai log

thake thake hai magar chal rhe hai log

wafa na pyar na kirdar na vasul koi

na jane kaun se sach me dhal rahe hai log..!!

 

हम उम्मीद करते है आपको हमारा altaf raja shayari का collection पसंद आया होगा और आपको इसकी सबसे अच्छी कौनसी लाइन लगी हमे जरुर बताए । और साथ ही आपके दिल में कोई shayari हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताना । इस पोस्ट और लोगों तक जरूर share करे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button